बेहतर शादी-शुदा ज़िन्दगी के उपाए |Tips For Happy Married Life In Hindi

Happy Marriage tips

 Happy Married Life In Hindi

दस्तों, एक खूबसूरत शादी-शुदा रिश्ते की जीवन में अहम् भूमिका है | एक सफल वैवाहिक रिश्ता समुद्र की उस गेराई की तरह है जिसकी गहराई मापना लगभग नामुमकिन सा हो जाता है |

लेकिन आज हमने अक्सर शादी शुदा रिश्ते को टूटते हुए देखा है जिसका कारण है नासमझी |

एक सफल वैवाहिक रिश्ता निभाना एक कला है, जिसे बहुत से लोग सीखने  में  Fail हो जाते हैं, जिसका अंजाम होता है रिश्तों में दरारें |

दोस्तों, एक पति-पत्नी का रिश्ता साइकिल के  उस पहिये की तरह है जो निरंतर एक साथ चलते हैं लेकिन यदि उसमे से  एक पहिया भी क्षतिग्रस्त हो जाये तो दूसरे का आगे बढ़ना लगभग मुश्किल सा हो जाता है |

एक सफल वैवाहिक रिश्ता तभी चलता है जब दोनों समझदारी से आगे बढ़े और एक दूसरे को समझकर जीवन की सभी समस्याएं एक साथ सुलझाएं वरना छोटी सी गलतफहमियों के चलते, ये पवित्र रिश्ता टूटने की कगार तक पहुंच जाता है |

इसीलिए ज़रूरी है रिश्तों को सझकर इन्हे टूटने से बचाया जाये |

आईये जानते हैं आखिर ये खूबसूरत रिश्ता टूटता क्यों है :

  • घमंडी होना ( Being Egoist)

शादीशुदा रिश्ता टूटने में इसकी अहम भूमिका है, क्योंकि ऐसा देखा जाता है कि घमंड के चलते कोई एक दूसरे के आगे झुकना नहीं चाहता और एक दूसरे की पहल का इंतजार करता रहता है जिसका अंजाम होता है रिश्तों में दूरियाँ | 

  •  गुस्सा ( Anger)

गुस्सा एक ऐसी प्रतिक्रिया है जो रिश्तो को कमजोर करती है, क्यूंकि व्यक्ति गुस्से में अपना संतुलन खोकर ऐसे अपशब्दों का प्रयोग कर बैठता है जो एक दूसरे को  नीचा दिखाती हैं और रिश्तों में खटास पैदा करती हैं | 

  •  बुरी आदतें का होना ( Bad Habits)

वैवाहिक रिश्तों के टूटने में यह कारण भी महत्वपूर्ण है क्यूंकि बुरी आदतें जैसे :गुटखा, सिगरेट, तंबाकू इत्यादि, दांपत्य जीवन में अक्सर झगड़ों का कारण बनती हैं जो एक दूसरे के बीच दूरियां पैदा कर देती हैं| 

  •  खुद के बारे में सोचना ( Being Selfish)

अक्सर ऐसा देखा गया है कि कुछ लोग सिर्फ अपने बारे में  ही सोचते हैं और दूसरों की भावनाओं से कोई मतलब नहीं रखते | 

यही  Selfish Nature व्यक्ति को समाज और परिवार से भी अलग करता है और एक सफल शादीशुदा रिश्तों को तोड़ने का भी कारण बनता है| 

  •  विश्वास में कमी ( Lack Of Trust)

पति पत्नी के रिश्ते में विश्वास का होना बहुत जरूरी है क्यूंकि हर रिश्ते की नींव विश्वास पर ही टिकी होती है |

यदि विश्वास में कमी आ जाए तो एक खूबसूरत शादी-शुदा रिश्ते को खुद की नजर लग जाती है क्यंकि शक्क हर रिश्ते को सिर्फ तोड़ने का काम करता है | 

  •  दूरी का होना ( Long Distance)

अक्सर लोग पैसा कमाने के चक्कर में परिवार वालों से दुरी बना लेते  हैं और अपने शहर या देश से बाहर जाने का फैसला कर बैठते हैं | 

यही कारण  एक अच्छे चलते  शादी शुदा रिश्ते में दूरियां पैदा कर देता है क्यूंकि हर रिश्ते की गहराई एक दूसरे को समझने और नज़दीकियों से बढ़ती है, जो रिश्तों को नया मोड़ देती है |

  •  एक दूसरे से तुलना ( Compare To Each Other)

 एक  दूसरे से तुलना भी एक खुशनुमा शादी शुदा रिश्ते के टूटने का कारण बन सकता है जिसमे व्यक्ति गुस्से में आकर अपनी प्रोफ़ेशनल, Looks और  पारिवारिक सदस्यों की तुलना अपने पार्टनर से कर बैठता है जो एक दूसरे के सम्मान को ठेस पहुंचती है और दूरियां पैदा करती है |  

  •  झूठ या धोखे का सहारा लेना ( Lies or Deception)

ईमानदारी एक ऐसा शब्द है जो रिश्तों को और मजबूत बनाता है लेकिन यदि कोई अपने लाइफ पार्टनर को  किसी दूसरे इंसान के चलते धोखे में रखता है या हर बात पर झूठ का सहारा लेता है तो रिश्तों से विश्वास उठने लगता है जो बाद में पछतावे का कारण बनता  हैं |

दोस्तों, यदि समय रहते व्यवहार को न बदला गया तो आप अच्छे खासे शादी शुदा रिश्ते से हाथ धो बैठेंगे| इसीलिए सरलयुक्ति के माध्यम से Tips For Happy Married Life In Hindi में ऐसे तरीकों को सुझाया जायेगा जो आपके खुशनुमा रिश्तों में और मिठास भर देगा|

बेहतर शादी-शुदा ज़िन्दगी के उपाए | Happy Marriage Life 

1)  रिश्तो की अहमियत को समझें (Understand The Value Of Relationships)

Happy Married Life के लिए ये सलाह बेहद ख़ास है क्यूंकि  रिश्ता ऐसे धागे की तरह है जो अगर टूट जाए तो जुड़ने के बाद गाँठ रह  जाती है| 

आज  हर इंसान अधूरा महसूस करता है और उसे पूरा होने के लिए किसी के साथ की जरूरत अवश्य पड़ती है जो आगे चलकर परिवार का रूप लेती है और व्यक्ति के हर सुख- दुःख में काम आते हैं | 

यदि वैवाहिक रिश्तो में कड़वाहट आ जाए तो नुकसान दोनों पुरे परिवार को भोगना पड़ता है, इसीलिए जरूरत है  रिश्तों की अहमियत को समझकर जीवन में आगे बढ़ा जाये और एक साथ खुश रहा जाये | 

2) कारणों की समीक्षा करें ( Review Reasons)

दोस्तों, आजकल पति- पत्नी के रिश्ते इतने नाज़ुक हो गए हैं कि उनको टूटने में ज्यादा वक़्त नहीं लगता, इसीलिए ऊपर बताये गए  कारणों के अलावा अन्य कारणों की भी समीक्षा करना बेहद ज़रूरी है जो आपको खुशहाल वैवाहिक रिश्ते के टूटने की गहरी वजहों तक पहुंचा सकता हैं जैसे :

  • वित्तीय समस्याएं ( Financial Problems)| 
  • बच्चों की परवरिश से संबंधित समस्या |
  •  परिवारिक मुद्दे  या व्यवहार से जुडी समस्याएं |
  • सेक्स सम्बंधित समस्याएं | या
  • चीज़ों की ज़रूरतें पूरी न हो पाना  इत्यादि |

जब आप इन कारणों की समीक्षा कर लें तो आपको चाहिए कि पूरी हिम्मत के साथ इनको दूर करने का सफल प्रयास करें क्योंकि बीमारियां सिर्फ लक्षणों (Symptoms) को दबाने से नहीं बल्कि कारणों को ठीक करने से दूर होती है| 

3) गलतफहमी को दूर करें (Clear The Misunderstanding)

ग़लतफहमी एक ऐसा वहम है जिसका इलाज़ करना नामुमकिन है और जो बड़े गहरे रिश्तों को खोखला कर देती है|

क्यूंकि लोग अक्सर किसी दूसरे की बातों में आकर अपने जीवन साथी पर शक करने लगते हैं और उनसे बेतुके सवाल करना शुरू क्र देते हैं जैसे: 

  • फोन बिजी था किससे बात हो रही थी?
  • तुम्हे इतनी रात कौन कॉल कर रहा है ?
  • यह कौन सा दोस्त है जिसे मैं नहीं जनता या जानती ?
  • वह तुम्हारे बारे में ये कह रहा था या रही थी , इत्यादि | 

ये कुछ गलतफहियों भरे सवाल हैं जो व्यक्ति के मन में अपने साथी के प्रति अविश्वास और अप्रेम को जन्म देते हैं , इसीलिए एक अच्छी शादी- शुदा ज़िन्दगी के लिए चाहिए कि एक दूसरे पर विश्वास को रखें और शक जैसे शब्द को अपनी ज़िन्दगी से उखाड़ फेंकिए |

4) एक दूसरे को वक्त दें ( Give Time To Each Other):

Happy Marriage Tips में यह बेहद ख़ास Tip है जो एक दूसरे की माज़दीकियाँ बढाती हैं |

अक्सर कई घरों में ऐसा देखा गया है कि व्यक्ति जाने या अनजाने में अपने जीवन साथी को भरपूर समय नहीं दे पाता जो रिश्तों में दूरियों का कारण बनता है जैसे :

  • ऑफिस या बसिनेस्स में हमेशा व्यस्त रहना |
  • दोस्तों  के लिए भरपूर समय निकलना |
  • व्यवहार में समानता का न होना , इत्यादि |

इसीलिए यदि आप अपनी शादी शुदा ज़िन्दगी को भरपूर जीना चाहते हैं तो एक दूसरे के लिए Quality Time निकालिये, साथ में बाहर घूमने जाईये, एक दूसरे को तोहफे दीजिये और उन सुनहरे पलों में खो जाईये  जब आप दोनों की मुलाकात हुए थी |

आप महसूस करेंगे कि रिश्तों में दूरियाँ काम होने  लगी है |

5) गलतियों की माफी मांगे ( Apologize For Mistakes)

एक सुखी वैवाहिक जीवन ( Happy Married Life) का इससे सीधा संबंध है जो रिश्तो में  मजबूती लाता है |

लेकिन आजकल रिश्तो को Ego नाम की बीमारी ने घेर लिया  है, जो सुखी वैवाहिक रिश्तो को  सिर्फ तोड़ने का काम करती  है| 

वे अक्सर बोलते हैं:

  • जब वो नहीं झुकता या झुकती तो मैं ही क्यों?  या
  • गलती पहले उनकी थी मेरी नहीं, इत्यादि |

दोनों बस अपनी- अपनी अक्कड़ में रहते हैं और पहले झुकना पसंद नहीं करते | 

दोस्तों,  रिश्ते नम्रता से निभाए जाते हैं क्यूंकि अकड़ना सिर्फ मुर्दों का काम होता है ज़िंदा लोगो का नहीं |

इसीलिए यदि आपसे गलती हो जाए तो अपनी ओर से माफी मांगे और अगर पहल भी करनी पड़े तो बिना किसी हिचकिचाए के रिश्तों को सँभालने का सफल प्रयास करें,  क्योंकि रिश्ता बनाना आसान है लेकिन निभाना एक कला| 

6) किसी सहयोगी की सलाह लें ( Consult From Dearest Ones) : 

दोस्तों, यदि आपका साथी रिश्तों की एहमियत को समझने में असफल हो रहा है तो आप  किसी मित्र या पारिवारिक सदस्य की मदद भी ले सकते हैं जो दोनों को समझने के साथ-साथ  उचित राय भी  दे सके |

क्यूंकि अक्सर व्यक्ति दूसरों की बातों को बेहतर समझने लगता हैं क्योंकि इंसान का दिमाग अक्सर झगड़ों की वजह से चलना बंद सा हो जाता है जिससे वह सही निर्णयों पर नहीं पहुँच पाता जो रिश्तों में कमज़ोरी का कारण बनती हैं |

इसीलिए याद रहे सलाह देने वाला शख्स आपका खास  होना चाहिए जो दोनों पक्षों को समझे न कि रिश्तों का और मजाक बनाएं| 

7) एक दूसरे की सराहना करें ( Appreciate Each Other)

Happy Married Life Tips में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जो  रिश्तो में मिठास भरता है |

यदि आप एक सफल और शानदार वैवाहिक जीवन चाहते हैं तो इन बताये गए तरीको को साथी पर रोज़ाना अपनाएं जैसे : 

  • अपने जीवन साथी के हर सकारात्मक काम की तारीफ करने की आदत डालें |
  • हर छोटी बात पर Thank You का सहारा लें |
  • एक दूसरे को देखकर Smile पास करें | 
  • एक दूसरे के पहनावे और खूबसूरती की  खुलकर तारीफ करें, इत्यादि | 

यदि आप इन तरीकों को अपने जीवन साथी के साथ रोज़ाना आज़माते हैं तो आप उनके अंदर एक अध्बुध बदलाव करेंगे जो दोनों की नज़दीकियां बढ़ाने में सहायक होगी |

8) लक्ष्य के प्रति प्रेरित करें ( Motivate For Goals)

आज हर व्यक्ति जीवन में कुछ करना चाहता है और समाज में एक अलग पहचान बनाना चाहता है, जिसके लिए वह रात दिन कड़ी मेहमत करता है जो उसे सफल बनती है | 

यही बात एक सफल दांपत्य जीवन के लिए भी लागू होती है | इसीलिए आपको  चाहिए कि जीवन साथी को उसके लक्ष्यों के प्रति Motivate करे;  उनके सपनों को साकार करने के लिए उनका भरपूर साथ दें  और उनके काम  के प्रति आदर और मेहनत  की भी  सराहना करें |

साथ ही उनके सपने पुरे होने का मकसद भी पूछे, जिससे आपके बीच प्रतिदिन नज़दीकियां भी बढ़ेंगी और आप एक दूसरे को समझकर जीवन में ख़ुशी महसूस करेंगे | 

9) रिश्तों में ताज़गी बरक़रार रखें ( Keep Freshness In Relationship) :

यदि आप सदाबहार वैवाहिक जीवन चाहते हैं तो रिश्तों की ताज़गी को हमेश बरक़रार रखें |

क्यूंकि  शादी के शुरुवाती दिनों में पति-पत्नी में बेहद प्रेम और नज़दीकियां रहती हैं लेकिन शादी के कुछ महीने या साल या फिर बच्चे हो जाने के बाद आपसी प्रेम में कमी आने लगती है जो रिश्तों की ताज़गी को खत्म करदेती है |

इसीलिए रिश्तों की ताज़गी को हमेश कायम रखें , एक दूसरे को प्रेम का इज़हार करने से न हिचकिचाएं , अपने पुराने खूबसूरत लम्हों (Honeymoon period) की चर्चा करें , जो दोनों को ओर नज़दीक लाएगा और बेहतर रिश्ता भी कायम रखेगा |

10) Relationship/Marriage Counselor की मदद लें ( Take Help Of R/M Counselor) :

आज हर couple अपनी शादी शुदा ज़िन्दगी में खुश रहना चाहता है लेकिन किसी एक साथी की नासमझी की वजह से ये खूबसूरत रिश्ता टूटने की कगार पर आ जाता हैक्यूंकि रिश्तों को सँभालने में दोनों की समझदारी मायने रखती है| 

इसीलिए अगर बताये गए तरीकों के बाद भी यदि कोई सही रास्ते पर नहीं आना चाहता तो किसी Relationship/Marriage Counselor की मदद ली जा सकती है जो अपने क्षेत्र का प्रशिक्षिक सलाहकार ( Professional advisor) होता है जो  Couples के Behavior Pattern को अपने अनुभव के आधार पर समझने की कोशिश करता है और उचित सलाह  के साथ सही मार्गदर्शन भी करता है |

 

निष्कर्ष ( Conclusion) :

दोस्तों,  आपने जाना कि कैसे एक खुशनुमां शादी शुदा रिश्ता हमारे जीवन को खुशियों से भर देता है, लेकिन कुछ ग़लतफ़हमियो के चलते ये बिगड़ने लगता है | 

इसीलिए यदि आप एक सफल वैवाहिक जीवन चाहते हैं तो Tips For Happy Married Life को अपने रिश्ते में उतारना पड़ेगा जो  इस खूबसूरत रिश्ते की सफलता के लिए बेहद ज़रूरी है |  

मैं आशा करता हूँ सरल युक्ति के माध्यम से लेखे “Tips For Happy Married Life” आपको पसंद आया होगा और आपको “Happy Marriage Life” को  समझने में सहायता मिली होगी | आप “बेहतर शादी-शुदा ज़िन्दगी के उपाए ” लेख को अपने मित्रों और सम्बन्धियों को Social Media पर शेयर भी कर सकते हैं और अपने सुझाव मुझको भेज सकते हैं जिससे मुझे और बेहतर लिखने की प्रेरणा (Inspiration) मिलेगी |

इसे भी पढ़ें : Self Confidence कैसे बढ़ाएं |

हमेशा खुश रहिये और मुस्कुराते रहिये ||

धन्यवाद |

About Vinay Rajput

Hi, I m Vinay Rajput, an Author, and founder of Saralyukti.com. I m here to publish motivational and other blogs to inspire people to live an easy life in day-to-day unwanted circumstances and issues.

View all posts by Vinay Rajput →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *